बारिश में गाड़ी को खुले में पार्क करने से हो सकता है नुकसान, इस मौसम में ये अपनाए ये आसान टिप्स.

 

देश भर में बारिश का दौर शुरू हो चुका है। असम और बिहार सहित देश के कई राज्यों में लोगों को भारी बारिश के कारण बाढ़ का सामना भी करना पड़ रहा है। बारिश के मौसम में गाड़ी को सुरक्षित और सही रखना थोड़ा मुश्किल रहता है। बाढ़ और तेज आंधी के अलावा कई बातों से आपकी गाड़ी को नुकसान पहुंच सकता है। यहां हम आपको बता रहे हैं कि आप बारिश में अपनी गाड़ी को सुरक्षित कैसे रख सकते हैं।

खुले में पार्क करने से बचें
गाड़ी को खुले में पार्क करने से बचना चाहिए क्योंकि कई बार देखा जाता है। क्योंकि कई बार बारिश के साथ तेज हवा के कारण पेड़ टूट जातें हैं और इससे गाड़ियों को नुकसान पहुंचने की संभावना रहती है। इसीलिए खुले में या पेड़ के नीचे गाड़ी खड़ी न करें।

गाड़ी को कवर करके रखें
अगर आपकी गाड़ी घर में कहीं ऐसी जगह खड़ी है जहां गाड़ी पर ऊपर से शेड नहीं हैं तो यह बहुत जरूरी है कि आप गाड़ी को कवर करके रखें। आप कहीं से भी बाइक कवर ले सकते हैं ये ज्यादा महंगा नहीं आता।

गाड़ी का इंश्योरेंस बहुत जरूरी
मोटर बीमा पॉलिसी रिन्यू कराने से पहले इंश्योरेंस कंपनी से पूछें कि ऐसे कौन से एड-ऑन कवर हैं जो आपके लिए फायदेमंद हो सकते हैं। मसलन, यदि आप ऐसे क्षेत्र में रह रहे हैं जहां बाढ़ आ सकती है तो अपनी गाड़ी के इंजन के लिए अतिरिक्त बीमा कवर ले सकते हैं। जीरो डेप्रिसिएशन या डेप्रिसिएशन शील्ड एक और एड-ऑन कवर है। इसके तहत बीमा कंपनी क्लेम के वक्त डेप्रिसिएशन की गणना न कर वाहन के पार्ट्स का बाजार मूल्य पर भुगतान करती है।

टायरों का रखें ख्याल
पानी में लंबे समय तक खड़े रहने से टायर्स को नुकसान हो सकता है। कई बार भी टायर्स पुराने होने पर पानी भी उनमें चला जाता है, इससे टायर को नुकसान हो सकता है। ऐसे में जरूरी है कि आप अपनी गाड़ी ऐसी जगह न रखें जहां हमेशा पानी भरा रहता है।

पेट्रोल टैंक में न जाने दें पानी
कई बार देखा जाता है कि बाइक के पेट्रोल टैंक का ढक्कन कुछ समय बाद थोड़ा ढीला हो जाता है और ऐसे में टैंक में पानी चले जाने की समस्या रहती है। इस समस्या से बचने के लिए पेट्रोल टैंक का ढक्कन को सही करा लें। क्योंकि पानी जाने के कारण बाइक स्टार्ट होने में प्रॉब्लम करती है और बार- बार बंद होने लगती है।

स्पार्क प्लग को रखें सुरक्षित
गाड़ी के स्पार्क प्लग में पानी पाने भरने के कारण गाड़ी के स्टार्ट होने में प्रॉब्लम होती है। इस समस्या से बचने के लिए जरूरी है कि आपकी गाड़ी का स्पार्क प्लग ठीक तरह से कवर हो। अगर ऐसा नहीं है या उनका कवर खराब हो गया है तो उसे तुरंत बदलवा लें।

गाड़ी को रखें साफ
अकसर देखा जाता है कि हम जब गाड़ी चलकर लौटते हैं तो उसमें कीचड या गंदगी लग जाती है। अगर ये कीचड ज्यादा समय तक गाड़ी में लगा रहता है तो इससे गाड़ी में जंग लगने का खतरा रहता है। अगर आपकी गाड़ी में पहले से जंग लगी हैं तो उस जगह पर आयल पेंट कर सकते हैं।

मेंटीनेंस बहुत जरूरी
गाड़ी का समय-समय पर मेंटीनेंस कराना बहुत जरूरी है। बारिश के मौसम में यह और भी जरूरी हो जाता है। इसीलिए गाड़ी में कोई भी परेशानी होने पर ऐसे तुरंत मैकेनिक को दिखाएं ताकि बड़ी परेशानी से बचा जा सके।

बारि‍श में बाइक चलाते समय इस बात का रखें ध्‍यान...

स्पीड का रखें ध्यान
बारिश में सड़क पर आपका ट्रैक्शन कम हो जाता है जिसकी वजह से मोटरसाइकिल पर आपको कंट्रोल भी कम हो जाता है। स्पीड कम रखने से आपको ज्यादा ब्रेक लगाने भी नहीं लगानी पड़ती है और मोटरसाइकिल पर आपको कंट्रोल भी ज्यादा रहता है। बेहतर होगा कि आप बारिश के समय 30 से 50 किमी प्रति घंटे की स्पीड को कायम रखें। तेज बारिश में विजिबिलिटी भी कम होती है। स्पीड कम रहने पर इसमें भी फायदा मिलेगा और आप बाइक चलाते वक्त ज्यादा सेफ महसूस करेंगे। इतना ही नहीं, आप दुर्घटना से भी बच जाएंगे।

दूरी बनाकर रखें
आपको अपने आगे चलने वाली बाइक और दूसरे व्हीकल के बीच दूरी बढ़ाने की जरूरत है। बारिश में ट्रैक्शन कम होने की वजह से बाइक को रोकने में ज्यादा वक्त लगता है। इसके अलावा दूरी बनाए रखने से दूसरी कारों के जरिए सड़क का पानी फैलने से होने वाले नुकसान से बच सकेंगे।

आराम से लगाएं ब्रेक
आराम से लगाएं ब्रेक बेहतर होगा कि आप बारिश के समय डिस्क और ड्रम ब्रेक्स दोनों का इस्तेमाल करें। अगर आप फ्रंट डिस्क ब्रेक का यूज करते हैं तो स्लिप होने का खतरा रहता है जबकि ड्रम ब्रेक आपकी बाइक को पूरी तरह से रोक नहीं पाएगी। अपने ड्रम ब्रेक को दबाएं और डिस्क ब्रेक को हलके से टैप करें ताकि स्पीड कम हो और आपका कंट्रोल ज्यादा। मानसून से पहले ब्रेक को जरूर चेक कर लें।

हेडलाइट ऑन रखें
बारिश के समय विजिबिलिटी कम हो जाती है। ऐसे में दिन के वक्त भी हेडलाइट्स ऑन रखने से दूसरों को आपकी पॉजिशन के बारे में पता चलता रहेगा। अपने हेडलैम्प और टेल लाइट दोनों को साफ रखें। इस बात का भी ध्यान रखें कि जहां जरूरी हो वहां अपनी हेडलाइट कम बीम पर रखें।

From around the web