IPL Season 1 to 12: जानिए अब तक कैसा रहा चेन्नई सुपर किंग्स का सफर.

 

चेन्नई सुपर किंग्स इंडियन प्रीमियर लीग की सबसे मज़बूत टीम है. यह टीम इस लीग के इतिहास में सबसे ज्यादा बार फाइनल मुकाबले खेल चुकी है. हालांकि, खिताब जीतने के मामले में CSK दूसरे नंबर पर है. चेन्नई ने अब तक इस लीग में तीन बार खिताब पर कब्जा किया है. आइये जानें कि साल 2008 से लेकर 2019 तक चेन्नई का सफर कैसा रहा है.

 

2008 में खेला फाइनल

आईपीएल के पहले सीज़न में चेन्नई सुपर किंग्स की टीम शानदार प्रदर्शन करते हुए फाइनल में पहुंची थी. हालांकि, फाइनल मुकाबले में उसे राजस्थान रॉयल्स के हाथों रोमांचक मुकाबले में तीन विकेट से हार का सामना करना पड़ा था. इस मैच में राजस्थान ने आखिरी बॉल पर जीत हासिल की थी.

 

2009 में तय किया सेमीफाइनल तक का सफर

 

आईपीएल 2008 की तरह आईपीएल 2009 में भी चेन्नई सुपर किंग्स का प्रदर्शन बेहतरीन रहा था. हालांकि, इस सीज़न में भी टीम खिताब पर कब्जा नहीं कर सकी और सेमीफाइनल मुकाबले में RCB के सामने ढेर हो गई. इस मैच में CSK को छह विकेट से शिकस्त झेलनी पड़ी थी.

 

2010 में जीता पहला खिताब

 

CSK ने 2010 में इस लीग का अपना पहला खिताब जीता. 2008 और 2009 में फेल होने के बाद चेन्नई ने 2010 में फाइनल मुकाबले में मुंबई इंडियंस को हराकर जीत हासिल की. चेन्नई ने फाइनल मुकाबले को 22 रनों से जीता था. इस सीज़न को धोनी की शानदार कप्तानी के लिए भी जाना जाता है.

 

2011 में एक बार फिर जीता खिताब

 

2010 की तरह 2011 में भी चेन्नई सुपर किंग्स ने आईपीएल के खिताब पर कब्जा किया. इस सीज़न में CSK ने लीग मैचों में 9 जीत दर्ज की थी. फाइनल मुकाबले में चेन्नई के सामने रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर थी, लेकिन धोनी एंड कंपनी ने 58 रनों से यह मुकाबला जीतकर इतिहास रच दिया.

 

2012 में भी तय किया फाइनल तक का सफर

 

आईपीएल 2012 में चेन्नई ने लीग स्टेज में काफी साधारण प्रदर्शन किया था. हालांकि, फिर भी टीम फाइनल में जगह बनाने में कामयाब हुई थी. फाइनल से पहले 16 मुकाबलो में से आठ मैच जीतने वाली चेन्नई ने अहम मुकाबले में कोलकाता नाइट राइडर्स के सामने घुटने टेक दिए. KKR ने 2012 के फाइनल में चेन्नई को आसानी से पांच विकेट से हराया था.

 

2013 में फिर मिली फाइनल में हार

 

2012 की तरह 2013 में भी चेन्नई सुपर किंग्स को फाइनल मुकाबले में हार का मुंह देखना पड़ा. इस बार फाइनल मुकाबले में CSK को मुंबई इंडियंस ने मात दी. मुंबई ने इस मैच में 23 रनों से जीत दर्ज की.

 

2014 में तय किया सेमीफाइनल तक का सफर

 

आईपीएल 2014 में चेन्नई की टीम ने सेमीफाइनल तक का सफर तय किया था. एलीमिनेटर मुकाबले में मुंबई इंडियंस को सात विकेट से हराने के बाद चेननई को क्वालीफायर-2 में किंग्स इलेवन पंजाब के सामने 24 रनों से हार का सामना करना पड़ा था. हालांकि, लीग स्टेज में सीएसके 14 में से 9 मैच जीते थे.

 

2015 में फाइनल में मिली हार

 

आईपीएल 2015 के फाइनल मुकाबले में चेन्नई को मुबंई के सामने 41 रनों से हार का सामना करना पड़ा था. इस सीज़न के लीग स्टेज में सीएसके ने अद्भुत प्रदर्शन करते हुए अंक तालिका में पहला स्थान हासिल किया था, लेकिन टीम फाइनल मुकाबले में उम्मीद के मुताबिक प्रदर्शन करने में नाकाम रही थी.

 

2016 और 2017 में नहीं लिया हिस्सा

 

आईपीएल 2016 और 2017 में चेन्नई सुपर किंग्स इंडियन प्रीमियर लीग का हिस्सा नहीं थी. दरअसल, मैच फिक्सिंग के आरोपों के चलते इन दो सालों के लिए सीएसको बैन कर दिया गया था.

 

2018 में की धमाकेदार वापसी

 

दो साल इस लीग से दूर रहने के बाद 2018 में चेन्नई सुपर किंग्स ने धमाकेदार वापसी की. फिक्सिंग के आरोपों का सामना कर लीग में वापसी करने वाली सीएसके के सामने कोई भी टीम टिक नहीं पा रही थी. इस सीज़न के फाइनल मुकाबले में चेन्नई ने सनराइजर्स हैदराबाद को आठ विकेट से हराया था.

 

2019 में फाइनल में मिली हार

 

आईपीएल 2019 में चौथी बार CSK और मुंबई इंडियंस आमने-सामने थीं. इससे पहले तीन बार जब ये दोनों टीमें आमने सामने थीं तो दो बार मुंबई ने बाज़ी मारी थी. इस बार भी फाइनल मुकाबले में मुंबई की टीम चेन्नई से एक कदम आगे रही और खिताब पर कब्जा कर लिया. हालांकि, यह मैच बेहद रोमांचक रहा था और मुंबई को आखिरी बॉल पर जीत नसीब हुई थी.

From around the web