पूर्व सेलेक्टर रोजर बिन्नी ने कहा- धोनी को युवाओं के लिए जगह छोड़नी चाहिए, उनके पास पहले जैसी फिटनेस भी नहीं है

 

भारतीय टीम के पूर्व सेलेक्टर रोजर बिन्नी ने कहा है कि अब समय आ गया है कि महेंद्र सिंह धोनी युवाओं के लिए रास्ता बनाए। बहुत से युवा खिलाड़ी इंडिया टीम में दस्तक देने के लिए तैयार हैं। धोनी के पास पहले जैसी फिटनेस नहीं है। साथ ही वे पहले की तरह बेस्ट खिलाड़ी भी नहीं रहे हैं। उनकी फिटनेस पर विश्वास करना बेकार है।

धोनी ने पिछला मैच जुलाई 2019 में वनडे वर्ल्ड कप का सेमीफाइनल खेला था। इस मैच में भारतीय टीम को न्यूजीलैंड के हाथों हार मिली थी। धोनी ने अपनी कप्तानी में देश को 2007 में टी-20 और 2011 में वनडे वर्ल्ड कप के अलावा 2013 में चैम्पियंस ट्रॉफी में जीत दिलाई है।

धोनी अपनी पहले जैसी फिटनेस खो चुके

बिन्नी ने स्पोर्ट्सकीड़ा से कहा, ‘‘पिछले कुछ सीजन देखने से लगता है वह (धोनी) अपना बेस्ट क्रिकेट समय बिता चुके हैं। अपनी ताकत और समझदारी से हारे हुए मैच को जिताने की क्षमता भी खो चुके हैं। साथ ही युवाओं को मोटिवेट करने की बात भी अब उनमें पहले जैसी नहीं रही है। वे अपनी पहले जैसी फिटनेस भी खो चुके हैं। वहीं दूसरी ओर इस समय काफी युवा प्लेयर आ रहे हैं। सच कहूं तो उनका बेस्ट समय निकल चुका है। वे खुद के बारे में फैसला करने के लिए सक्षम हैं।’’

धोनी सीनियर खिलाड़ियों का सम्मान करते हैं
बिन्नी ने कहा, ‘‘धोनी सीनियर खिलाड़ियों का भी काफी सम्मान करते हैं। उनकी बातों को मानते हैं। धोनी डाउन टू अर्थ हैं। धोनी आकर चर्चा करते थे और बताते थे कि वह क्या चाहते हैं।’’ बिन्नी 2012 में इंडिया टीम के सेलेक्टर थे। तब धोनी टीम के कप्तान थे। बिन्नी ने कहा, ‘‘वे मैदान पर रहते थे। हमें उन्हें वह टीम देना होती थी, जो वे चाहते थे। इसके लिए वे मांग नहीं करते थे। उनके साथ काम करना अच्छा रहा। कभी किसी बात को लेकर हमारे बीच कोई झगड़ा या बहस नहीं हुई।’’

धोनी ने चेन्नई को 3 बार आईपीएल खिताब जिताया
माही ने अब तक 90 टेस्ट में 4876 और 350 वनडे में 10773 रन बनाए हैं। उनके नाम 98 टी-20 में 1617 और आईपीएल के 190 मैच में 4432 रन हैं। धोनी ने 2015 में टेस्ट क्रिकेट से संन्यास ले लिया था। उन्होंने अपनी कप्तानी में चेन्नई सुपर किंग्स 3 बार आईपीएल खिताब जिताया है।

धोनी फॉर्म में हैं, तो उन्हें जरूर खेलना चाहिए: गंभीर
हाल ही में गंभीर ने स्टार स्पोर्ट्स के क्रिकेट कनेक्टेड शो में कहा था, ‘‘उम्र सिर्फ एक नंबर है। मेरा मानना है कि धोनी यदि बॉल को ठीक से हिट कर रहे हैं, यदि वे अच्छी फॉर्म में हैं और खेल को एंजॉय कर रहे हैं। यदि वे मानते हैं कि नंबर 6 या 7 पर बल्लेबाजी करते हुए देश को जीत दिला सकते हैं, तो उन्हें जरूर खेलना चाहिए।’’

From around the web