आंगन में सो रहे दो नाबालिग बच्चों को चाकुओं से गोदा; एक की मौके पर मौत, दूसरे की हालत गंभीर.

 
  • घटना में प्रथम दृष्टया घर के किसी सदस्य पर ही शक कर रही पुलिस
  • पुलिस के अनुसार, मामला आशनाई से जुड़े होने की भी आशंका

उत्तर प्रदेश में वाराणसी के चौबेपुर थाना के मुरीदपुर गांव में शनिवार सुबह दो नाबालिग बच्चों को बदमाशों ने घर में घुसकर चाकुओं से गोद दिया। इलाज के दौरान एक की मौत हो गई। जबकि दूसरा गम्भीर रूप से घायल है। उसका बीएचयू ट्रामा सेंटर में इलाज चल रहा है। मौके पर स्थानीय पुलिस, एसएसपी अमित पाठक, एसपी ग्रामीण मार्तण्ड प्रकाश सिंह, फोरेंसिक टीम, डॉग स्क्वॉयड टीम भी पहुंची।

एसपी ग्रामीण मार्तण्ड प्रकाश सिंह ने बताया कि शुरुआती जानकारी के मुताबिक जयप्रकाश के दो नाबालिग पुत्रों अमन चौबे (17 साल) उर्फ सूरज, बादल चौबे (15 साल) पर घर में सोते वक्त चाकुओं से हमला किया गया। घटना में अमन की मौत हो गई। मामला घर के अंदर से ही जुड़ा है। बदमाश घटना को अंजाम देकर आसानी से निकल जाते हैं। कुछ आशनाई से जुड़ा मामला प्रतीत होता है।

पुलिस की जांच में घर के किसी करीबी सदस्य के होने की आशंका
जयप्रकाश चौबे आजमगढ़ में ट्रांसपोर्टर के यहां काम करते हैं। पत्नी रेखा किसी काम से दिल्ली गई है। जयप्रकाश के छोटे भाई विनय चौबे शुक्रवार को ही काम से मुंबई गए हैं। घर पर सिर्फ विनय की पत्नी ज्योति और बूढ़ी दादी के साथ दोनों बच्चे ही थे।

शनिवार को दादी जब बच्चों को उठाने गयी तो खून से लथपथ देख कर चीख कर बेहोश हो गई। विनय की पत्नी ने पुलिस को बताया कि सुबह दोनों बच्चों को सोता देखा था। टॉयलेट से निकलते ही किसी ने वारदात को अंजाम दे दिया। परिजन के काल डिटेल को भी निकाला जा रहा है।

From around the web