चीन विवाद पर राजनाथ बोले- लद्दाख में भारतीय जवानों की पेट्रोलिंग को दुनिया की कोई ताकत नहीं रोक सकती.

 
  • ​​​​​​राजनाथ ने कहा- चीन ने लद्दाख में 38 हजार वर्ग किमी हिस्से पर कब्जा कर रखा है
  • '130 करोड़ देशवासियों को भरोसा देते हैं कि देश का सिर झुकने नहीं देंगे'

कोरोना के बीच संसद के पहले सत्र (मानसून) का आज चौथा दिन है। रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने आज राज्यसभा में भी चीन विवाद पर बयान दिया। उन्होंने कहा, "दुनिया की कोई ताकत लद्दाख में भारतीय जवानों को पेट्रोलिंग करने से नहीं रोक सकती। चीन के साथ सीमा का प्रश्न अभी तक अनसुलझा है। चीन ने बातचीत के बीच ही 29-30 अगस्त को लद्दाख में उकसावे की कार्रवाई की। उसकी कथनी और करनी में फर्क है।"

राजनाथ के भाषण की 5 अहम बातें

1. चीन ने समझौते तोड़े
राजनाथ ने कहा, "चीन के रवैए से पता चलता है कि वह दोनों देशों के समझौतों का सम्मान नहीं करता। चीन की सेना ने 1993 और 1996 के समझौते तोड़े। बॉर्डर पर शांति रखने के लिए एलएसी का सम्मान करना जरूरी है।"

2. लद्दाख में 38 हजार वर्ग किमी हिस्से पर चीन का अवैध कब्जा
"चीन ने अवैध तरीके से लद्दाख में 38 हजार वर्ग किमी हिस्से पर कब्जा कर रखा है। चीन-पाकिस्तान के 1963 के कथित समझौते के तहत पाकिस्तान ने उसके कब्जे वाले कश्मीर (पीओके) का 5,180 वर्ग किमी हिस्सा अवैध रूप से चीन को दे दिया है। चीन अरुणाचल से सटे 90 हजार वर्ग किमी के इलाके पर भी अपना दावा करता है।"

3. चीन ने बॉर्डर के इलाकों में कंस्ट्रक्शन बढ़ाया
"चीन पिछले कई दशकों से बॉर्डर के इलाकों में सैनिकों की तैनाती बढ़ा रहा है। उसने कंस्ट्रक्शन से जुड़ी एक्टिविटी भी बढ़ाई हैं। हमारी सरकार ने भी बॉर्डर इन्फ्रास्ट्रक्चर डेवलपमेंट के लिए बजट दोगुना किया है।"

4. चीन की वजह से युद्ध की स्थिति बनी
"हम चीन की किसी भी कार्रवाई का जवाब देने में सक्षम हैं। किसी भी चुनौती से पीछे नहीं हटेंगे। चीन की हरकत की वजह से गलवान घाटी में युद्ध की स्थिति बनी। हम शांति चाहते हैं, लेकिन देश की रक्षा से पीछे नहीं हटेंगे। 130 करोड़ देशवासियों को भरोसा देता हूं कि देश का सिर झुकने नहीं देंगे।"

5. हर स्थिति से निपटने को तैयार
"विवाद के पॉइंट्स और सैनिकों की संख्या को लेकर इस साल स्थिति अलग है। हम मौजूदा स्थिति का शांति से समाधान चाहते हैं। साथ ही किसी भी आपात स्थिति से निपटने के लिए भी तैयार हैं।"

विदेश राज्य मंत्री ने कहा- पाकिस्तान अपनी जमीन से आतंकवाद रोके
राजनाथ से पहले विदेश राज्य मंत्री वी मुरलीधरन ने राज्यसभा में एक सवाल के लिखित जवाब में कहा, "भारत चाहता है कि पाकिस्तान के साथ सामान्य पड़ोसी जैसे संबंध रहें। हम चाहते हैं कि भारत-पाकिस्तान के बीच मुद्दे शांति और आतंकवाद मुक्त माहौल में सुलझाए जाएं। ये पाकिस्तान की जिम्मेदारी है कि वह ऐसा माहौल तैयार करे और अपनी जमीन का इस्तेमाल आतंकवाद के लिए होने से रोके।"

कांग्रेस ने कहा- कोरोना पर सरकार देर से जागी
राज्यसभा में कोरोना पर चर्चा के दौरान कांग्रेस नेता गुलाम नबी आजाद ने कहा, "सरकार ने कोरोना रोकने के गोल्डन महीने बर्बाद कर दिए। WHO ने पिछले साल दिसंबर में ही चेता दिया था। चीन हमारा पड़ोसी है, इसलिए हमें पहले ही अलर्ट हो जाना चाहिए था। राहुल गांधी ने भी कहा था कि महामारी का खतरा मंडरा रहा है।"

संजय राउत बोले- मुंबई के धारावी में कोरोना काबू में है
शिवसेना नेता संजय राउत ने कहा, "मेरी मां और भाई कोरोना संक्रमित हैं। महाराष्ट्र में कई मरीज ठीक भी हो रहे हैं। आज धारावी में हालात काबू में हैं। WHO ने BMC की कोशिशों की तारीफ की है। ये बातें इसलिए बताना चाहता हूं, क्योंकि कुछ लोग महाराष्ट्र सरकार पर सवाल उठा रहे थे।"

राउत ने केंद्रीय मंत्री मेघवाल पर तंज कसा
राउत ने कहा, "मैं पूछना चाहता हूं कि काफी सारे लोग ठीक कैसे हो गए, क्या भाभीजी के पापड़ खाकर ठीक हो गए? यह राजनीतिक लड़ाई नहीं, बल्कि लोगों की जिंदगी बचाने की लड़ाई है।"

राउत का यह तंज केंद्रीय मंत्री अर्जुन राम मेघवाल पर था। मेघवाल का एक वीडियो वायरल हुआ था, जिसमें वे भाभीजी ब्रांड के पापड़ पकड़े हुए कह रहे हैं कि यह पापड़ महामारी से लड़ने में मददगार साबित होगा।

From around the web