चेहरे की सुंदरता निखारने के काम आ सकता है गुलाब, पसीने की बदबू और कब्ज ऐसे करेगा दूर

 

दुनिया भर में रंग-बिरंगे फूलों की कमी नहीं है. मगर उनमें गुलाब को बादशाहत का दर्जा हासिल है. गुलाब को मुहब्बत की निशानी भी समझा जाता है. गुलाब न सिर्फ खुशबू बिखेरने या मुहब्बत को जाहिर करने का जरिया माना जाता है बल्कि कई रोग के इलाज में भी मुफीद होता है.

 

गुलाब के हैरतअंगेज फायदे.

 

पेट की एसिडिटी या फिर गर्म सामग्री के ज्यादा सेवन से मुंह में छाले पड़ जाते हैं. जिसके चलते बेहद तकलीफ का सामना करना होता है. यहां तक कि कुछ खाना भी दुश्वार हो जाता है. अगर गुलाब के रस में गुलाब का सफूफ मिक्स कर छालों पर लगाया जाए तो फौरी राहत मिलती है.

 

मुंह से बदबू आ रही हो या फिर मसूढ़ों से खून रिसने पर भी गुलाब का इस्तेमाल किया जा सकता है. इसके लिए गुलाब का जोशांदा से गरारा करना फायदेमंद साबित होगा.

 

दिल की कमजोरी से पीड़ित शख्स एक कप गुलाब रस में आधा चम्मच गुलाब का सफूफ मिक्स कर दिन में दो बार इस्तेमाल करे. लेकिन इसका ये मतलब नहीं कि विशेषज्ञ के सुझाए इलाज को नजरअंदाज किया जाए.

 

पसीने की बदबू दूर करने के लिए एक शीशी में गुलाब का सफूफ और रस मिक्स कर फ्रिज में रख लें. रोजाना पसीने वाली जगहों पर मिक्सचर का लेप करने से बदबू खत्म हो जाएगी.

 

कब्ज को तमाम बीमारियों की जड़ कहा जाता है. पेट से जुड़ी समस्या में गुलाब फायदेमंद साबित हो सकता है. इसके लिए गुलाब के फूल से तैयार गुलकंद का सेवन किया जाना चाहिए.

 

त्वचा, खासकर चेहरे की खूबसूरती के लिए गुलाब का रस 10 ग्राम, वैसलीन 50 ग्राम, नींबू का रस और काफूर 5-5 ग्राम मिक्स करें. अब आंखों का हिस्सा छोड़कर चेहरे पर कॉटन पेड की मदद से लेप करने के 30 मिनट बाद धो लें. चेहरा एकदम तरोताजा और आकर्षक हो जाएगा.

From around the web