बादाम से ज्‍यादा ताकत मिलती है मूंगफली भिगोकर खाने से, मसल्‍स बनाने के लिए हैं रामबाण

 

ज्यादातर सर्दियों के मौसम में लोग मूंगफली खाना ज्‍यादा पसंद करते हैं. लेकिन अगर आप हर रोज नियमित रूप से भीगी मूंगफली के कुछ दानों का सेवन करते हैं तो इससे आपकी सेहत की कई समस्‍याएं दूर हो सकती है. अगर आप भिगोई हुई मूंगफली का सेवन करते हैं तो इसमें मौजूद न्यूट्रिएंट्स और आयरन आपके ब्लड सर्कुलेशन को अच्छा बनाकर आपको दिल से संबंधित कई बीमारियों से बचाने में सहायक होती हैं, तो आइए आज हम आपको भीगी हुई मूंगफली खाने के फायदों के बारे में बताने जा रहे हैं.

 

डायबिटीज के नियंत्रित करें
अगर आप हर रोज भीगी हुई मूंगफली का सेवन करते हैं तो आपका ब्लड शुगर कंट्रोल में रहता है. इसलिए अगर आप शुगर की समस्या से जूझ रहे हैं तो रोज मूंगफली के 50 ग्राम दानों को रातभर भिगोकर रखें और सुबह इसका सेवन करने से मधुमेह कंट्रोल में रहता है. इसके अलावा मूंगफली को भिगो कर इसका सेवन करने से आपका डाइजेशन सिस्टम भी ठीक रहता है. सर्दी के मौसम में इसका सेवन आपके शरीर को अंदर से गर्मी और एनर्जी प्रदान करता है.

गैस और एसिडिटी में है उपयोगी
अगर आप मूंगफली को भिगो कर सुबह खाली पेट खाते हैं तो आपको गैस और एसिडिटी की शिकायत नहीं रहती है. मूंगफली पोटेशियम,मैग्नीज, कॉपर, केल्सियम,आयरन, सेलेनियम जैसे गुणों से भरपूर होती हैं. असके साथ ही सर्दियों में भीगी हुई मूंगफली को अगर आप गुड़ के साथ खाते हैं तो जोड़ो और कमर दर्द की समस्या से भी छुटकारा मिल जाता है. यह आपके शरीर में कैल्शियम की आपूर्ति का भी एक बहुत अच्छा साधन है.

 

आंखों की रोशनी बढ़ाए
मूंगफली विटामिन से भरपूर होती हैं जो आपकी आंखों की रोशनी और याद्दाश्त तेज करने में सहायक हैं. अगर आप अपने बच्चों को सुबह भीगी हुई मूंगफली के कुछ दाने खिलाने खिलाते हैं तो इससे उनकी याददाश्त के साथ-साथ उनके शरीर में खून की कमी भी पूरी हो जाती है. इसके अलावा इससे आपके शरीर में ऊर्जा और स्फूर्ती भी बनी रहती है. मूंगफली के इन्हीं गुणों के कारण इनको गरीबों का बादाम भी कहा जाता है.

 

कैंसर से सुरक्षा प्रदान करे
मूंगफली में पाए जाने वाले तैलीय अंश के कारण यह गीली खांसी और भूख न लगने की समस्या को दूर करने में मददगार होती है. अगर आप रोजाना इसके कम से कम 20 दाने खाते हैं तो यह आपको कैंसर से दूर रखता है. इसमें पाए जाने वाले  एंटीऑक्सीडेंट, आयरन, नियासिन, फोलेट, कैल्शियम और जिंक शरीर को कैंसर सेल्स से लड़ने में सहायता करते हैं.

 

मूंगफली सेहत का खजाना है
आपको यह जानकर आश्चर्य होगा कि 100 ग्राम कच्ची मूंगफली में 1 लीटर दूध के बराबर प्रोटीन पाया जाता है. इनमें प्रोटीन की मात्रा 25 प्रतिशत से भी ज्यादा पायी जाती है. इसके साथ ही यह आपकी पाचन शक्ति बढ़ाने में भी मददगार है. 250 ग्राम भूनी मूंगफली में इतने खनिज और विटामिन पाए जाते हैं, जो 250 ग्राम मांस से भी प्राप्त नहीं हो सकते हैं. इसमें न्यूहट्रियन्टीस, मिनरल, एंटी-ऑक्सीडेंट और विटामिन जैसे पदार्थ भरपूर मात्रा में पाए जाते हैं. इसमें प्रोटीन, चिकनाई और शुगर पाई जाती है. एक अंडे की कीमत के बराबर मूंगफलियों में जितनी प्रोटीन और ऊष्मा होती है, उतनी दूध और अंडे से मिलकर भी नहीं मिलती है.


अगर आप मूंगफली का सेवन करते हैं तो इससे आपके शरीर में दूध, बादाम और घी की पूर्ति हो जाती है. एक रिसर्च के अनुसार जिन लोगों के खून में ट्राइग्लाइसेराइड का स्तर ज्यादा होता है, वो अगर मूंगफली का सेवन करें, तो उनके ब्लड के लिपिड स्तर में ट्राइग्लाइसेराइड का स्तर10 फीसदी कम हो जाता है. अगर आप सर्दी के मौसम में मूंगफली खाते हैं तो आपका शरीर गर्म रहता है. यह खाँसी की समस्या में बेहद उपयोगी होती है और फेफड़ों को मजबूत बनाती है. लेकिन ध्यान रखें कि मूंगफली आपकी पाचन शक्ति को तो बढ़ाती है, परंतु गरम प्रकृति के लोगों के लिए हानिकारक भी साबित हो सकती है.

From around the web