ग्रामीणों ने तेंदुए को भगाया, एक घंटे बाद ही तेंदुआ लौटा और घर के बाहर खेल रही 5 साल की बच्ची को उठाकर ले गया.

 
  • घटना के बाद पूरे गांव में दहशत है और लोगों ने बच्चों को घरो में कैद कर रखा है
  • बच्ची की आवाज सुनकर उसे बचाने गांववाले दौड़े तो तेंदुआ बच्ची को उठाकर भाग गया

गुजरात में सूरत जिले के मदरकुई गांव में तेंदुआ एक 5 साल की बच्ची को उठाकर ले गया। ग्रामीणों ने आधे किमी तक तेंदुए का पीछा किया, तब तेंदुआ बच्ची को छोड़कर भाग गया। हालांकि, इस दौरान बच्ची के सीने व सिर में गंभीर जख्म बन गए थे, जिससे उसकी जान नहीं बच सकी। घटना के बाद पूरे गांव में दहशत है और लोगों ने बच्चों को घरो में कैद कर रखा है। वन-विभाग की टीम तेंदुए की तलाश कर रही है।

ग्रामीणों ने एक घंटे पहले ही भगाया था तेंदुए को
मदरफुई गांव में के पास जंगल में शुक्रवार को तेंदुआ दिखाई दिया था। शुक्रवार की शाम तेंदुआ गांव में घुसा था, लेकिन गांववालों की उस पर नजर पड़ गई और उसे भगा दिया था। लेकिन एक घंटे बाद ही तेंदुआ वापस गांव में लौटा और घर के बाहर खेल रही बच्ची पर हमला बोल दिया। बच्ची की बचाने गांव वाले दौड़े तो तेंदुआ बच्ची को उठाकर भाग गया। इसके बाद गांववालों ने उसका पीछा किया, लेकिन बच्ची की जान नहीं बच सकी।

From around the web