काला हिरण शिकार मामले में सलमान खान की जोधपुर अदालत में पेशी, 'बिग बॉस 14' शो के मेकर्स की बढ़ सकती हैं मुश्किलें.

 

बॉलीवुड एक्टर सलमान खान को जिला एवं सेशन न्यायालय, जोधपुर द्वारा 28 सितम्बर को पेश होने के लिए कहा गया है। यह आदेश काला हिरण शिकार और आर्म्स एक्ट प्रकरण के मामले के तहत दिया गया है। सूत्रों की माने तो कोर्ट के इस आदेश ने 'बिग बॉस 14' के मेकर्स के बीच हलचल मचा दी हैं।

शो से जुड़े सूत्र बताते हैं, “सलमान खान के ऊपर करोड़ों रूपए लगे हैं ऐसे में जाहिर हैं बिग बॉस के मेकर्स नहीं चाहेंगे कि उनके प्लान में किसी भी तरह का फेरबदल हो। शो अगले महीने के पहले हफ्ते में प्रीमियर होगा जिसे ध्यान में रखकर हर तरह की तैयारी हो चुकी हैं। यदि अदालत उनके खिलाफ कोई भी आदेश देता हैं तो कहीं-न-कहीं इसका शो पर असर पड़ सकता हैं। मेकर्स उम्मीद कर रहे हैं कि सलमान को इस बार भी अदालत से राहत मिल जाएगी जिससे उनके शो पर किसी भी तरह का प्रभाव ना पड़े।"

सितम्बर के अंत में होगी मामले की नई सुनवाई

बता दें, सलमान खान ने पहले हाजरी माफी की अपील की थी जिसे पहले तो अदालत ने स्वीकार कर लिया था। हालांकि अब कहा जा रहा है कि इससे जज नाराज हैं। अब इस महीने के अंत तक मामले में नई सुनवाई होगी।

क्या था पूरा मामला

साल 1998 में सलमान खान फिल्म 'हम साथ-साथ हैं' की शूटिंग के दौरान जोधपुर पहुंचे थे। उन पर कांकाणी गांव की सरहद में दो काले हिरणों का शिकार करने का आरोप लगा था। लंबी सुनवाई के बाद उन्हें पांच साल की सजा सुनाई गई जिसके बाद अभिनेता को जेल भेज दिया गया था। लेकिन जल्द ही वो जमानत पर बाहर आ गए।

उसी साल सलमान पर लाइसेंस की अवधि समाप्त हो जाने के बावजूद हथियार रखने का भी आरोप लगा। बाद में सलमान को इस मामले में बरी कर दिया गया। लेकिन राज्य सरकार ने ट्रायल कोर्ट के इस फैसले को चुनौती दे दी। वही दूसरे आरोपी सैफ अली खान, अभिनेत्री नीलम, तब्बू और सोनाली बेंद्रे को संदेह का लाभ देते हुए बरी कर दिया था।

From around the web